Logo Centrum Myśli Jana Pawła II

वारसॉ में समर फिल्म स्क्रीनिंग POD WSPÓLNYM NIEBEM (अंडर द कॉमन स्काई)

english

एक डेकचेयर पर बैठें और बहुसांस्कृतिक दृष्टिकोण से सिनेमा को देखें!

POD WSPÓLNYM NIEBEM (अंडर द कॉमन स्काई) फिल्म स्क्रीनिंग की श्रृंखला 13 जुलाई से शुरू हो रही है। इस गर्मी में, प्रत्येक बुधवार को रात 8:15 बजे, हमारे टेनमेंट हाउस, उल फोक्सल 11 के परिसर में आप यूक्रेन, बेलारूस, जॉर्जिया और भारत की फिल्मों को देख सकते हैं – इन देशों के लोग वारसॉ के निवासियों के बीच तेजी से बड़े समूह बन रहे हैं। इस कार्यक्रम में नौ नए प्रोडक्शंस (2017-2021) शामिल हैं, जो कि अभी तक पोलिश दर्शकों के लिए अनजान हैं, जैसे कि जियो बेबी द्वारा निर्देशित द ग्रेट इंडियन किचन। स्क्रीनिंग से पहले, रात 8:15 बजे, आपके पास आमंत्रित विशेषज्ञों और रचनाकारों से बात करने का अवसर होगा, ये लोग अपने फिल्म और देशों को प्रस्तुत करेंगे। कार्यक्रम का मुख्य विषय यूक्रेन, बेलारूस, भारत और जॉर्जिया के वर्तमान सामाजिक और सांस्कृतिक परिदृश्य से परिचय कराना है। इस कार्यक्रम का मुख्य विचार राजधानी के नए निवासियों को अंतरसांस्कृतिक संवाद के लिए अवसर प्रदान करना तथा विभाजनों एवं रूढ़ियों से परे देखना है।

बैठक कार्यक्रम:

  • 8:15 बजे – आमंत्रित अतिथियों के साथ चर्चा
  • 9:00 बजे – स्क्रीनिंग

स्क्रीनिंग की यह श्रृंखला पोलिश फिल्म स्कूलों और वाजदा स्कूल के छात्रों और स्नातकों द्वारा व्यावहारिक और लघु फिल्मों की प्रस्तुति के साथ समाप्त होगी।

यह कार्यक्रम अन्य के अतिरिक्त सांस्कृतिक शिक्षा, बहुसंस्कृतिवाद की आध्यात्मिक जड़ों और दूसरों के प्रति संवेदनशीलता के बारे में पॉडकास्ट की श्रृंखला के साथ पूरा होगा।

सभी स्क्रीनिंग मुफ़्त हैं!

जुलाईप्रदर्शनोंकीसूची

20 जुलाई | इंडिया
8:15 बजे – आमंत्रित अतिथियों के साथ चर्चा | 9:00 बजे – स्क्रीनिंग

वन्स अपॉन ए टाइम इन कलकत्ता (2021)
आदित्य विक्रम सेनगुप्ता द्वारा निर्देशित
नाटक, 131′
कलाकार: श्रीलेखा मित्रा, सत्रजीत सरकार, अरिंदम घोष, शायक रॉय, ब्रत्या बसु

एक सच्ची कहानी से प्रेरित, फिल्म एक शोक संतप्त मां और एक अलग पत्नी के जीवन के बारे में बताती है, जो एक नई पहचान, प्यार और स्वतंत्रता की तलाश में बेताब है। सेनगुप्ता द्वारा सच्ची कहानियों और अपने मूल शहर के स्थानों पर बनी इस शांत परन्तु एपिक फिल्म की उम्दा प्रस्तुति, वोंग कार वाई द्वारा निर्देशित „इन द मूड फॉर लव” की याद दिलाती है। इसे देखकर आपको इसकी दुनिया में खोने, कलकत्ता की खुशबू को अपने में समाने और इसके रहस्यों को जानने का मन करता है।
ट्रेलर देखें।

अगस्तकाकार्यक्रम

10 अगस्त | इंडिया
8:15 बजे – आमंत्रित अतिथियों के साथ चर्चा | 9:00 बजे – स्क्रीनिंग

द ग्रेट इंडियन किचन (2021)
जियो बेबी द्वारा निर्देशित
नाटक, 100′
कलाकार: निमिषा सजयन, सूरज वेंजारामूडु, टी. सुरेश बाबू, अजिता वी.एम

फिल्म एक नवविवाहित महिला, एक शिक्षित नर्तकी की कहानी के बारे में है, जो एक पारंपरिक हिंदू परिवार के शिक्षक के साथ एक व्यवस्थित विवाह में है और एक विनम्र पत्नी बनने की कोशिश कर रही है। जैसे-जैसे समय बीतता जाता है, और एक बार जब आसक्ति/ प्यार समाप्त होता जाता है, तो घटनाएं अप्रत्याशित मोड़ लेने लगती हैं।
ट्रेलर देखें।

आयोजन के भागीदार: वाजदा स्कूल, फंडाजा ला वोलनोस्सी, फंडाजा इन्ना प्रेजेस्ट्रेज़, टोवार्ज़ीस्टो प्रेज़ीजासिओल यूक्रेनी, बियालोरुस्की डोम, यूक्रेना! एफएफ, वन काकेशस, ट्रांसकौकज्जाज

मीडिया प्रायोजक: TVP KULTURA, KINO पत्रिका, FilmWeb, IMI Radio, जाएसि रॉमिस्किए

राष्ट्रीय विशेष कोष – संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए बने कोष से संस्कृति मंत्रालय और राष्ट्रीय विरासत द्वारा सह-वित्तपोषित।


Dofinansowano ze środków Ministra Kultury i Dziedzictwa Narodowego pochodzących z Funduszu Promocji Kultury – państwowego funduszu celowego.

Projekt współfinansowany ze środków Polskiego Instytutu Sztuki Filmowej.

Opublikowano 15.07.2022

ZOBACZ RÓWNIEŻ

„Obserwatorium idei: inspiracje” to projekt zainicjowany w 2023 roku, w ramach którego organizujemy spotkania z najwybitniejszymi intelektualistami i naukowcami z Polski i zagranicy.
Już 10 lipca rusza III edycja Letniego Przeglądu Filmowego Pod Wspólnym Niebem, który potrwa do 4 września.
Oddajemy w Wasze ręce pierwszy numer magazynu „Myśl w Centrum”, nowego pisma społeczno-kulturalnego.
Premiera magazynu „Myśl w Centrum”, oraz ostatnia debata i warsztaty projektu „Porozmawiajmy o człowieku” pt. „Nagość – piękno czy wstyd?”. Zobaczcie czerwcowy program Centrum.

Klikając „Zgadzam się” udzielasz zgody na przetwarzanie Twoich danych osobowych dotyczących Twojej aktywności na naszej witrynie w celach analitycznych, zapewnienia prawidłowego działania funkcjonalności z serwisów społecznościowych oraz serwerów treści. Szczegółowy opis celów i zakresu przetwarzanych danych znajdziesz tutaj.